Categories
News

विकास दुबे के बाद अब अतीक अहमद गैं’ग पर है योगी सरकार की नज़र, इतने लोगों के शस्त्र लाइसेंस किये गये रद्द

उत्तर प्रदेश के अंदर जबसे योगी सरकार बनी है. तबसे मा’फिया और गुं’डों पर आफ’त आ गई है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले भी कह चुके है की यूपी के अंदर जितने भी गुं’डे और मा’फिया है उनको उनकी सही जगह भेजा जायेगा. विकास दुबे एन’काउं’टर के बाद यूपी के अंदर मुख़्तार अंसारी से लेकर अतीक अहमद तक सभी पर कसनी कस दी गई है. अ’पराधि’यों और उनसे जुड़े लोगों पर कार्र’वाई के मामले में पुलिस सुपरफास्ट मोड में एक्शन कर रही है.

इसी सिलसिले में प्रयागराज के बा’हुब’ली अतीक अहमद के सात करीबियों के शस्त्र लाइसेंस भी पुलिस ने निर’स्त कर दिए हैं. इससे पहले पुलिस ने खुद अतीक अहमद के दो ह’थिया’र क’र्बला स्थित दफ्तर से ब’राम’द किए थे. इन हथि’यारों का लाइसेंस साल 2017 में ही नि’रस्त हो गया था, लेकिन ये जमा नहीं हुए थे. 

इस मामले में दो दिन पहले जिलाधिकारी को शस्त्र लाइसेंस रद्द करने के लिए रिपोर्ट भेजी गई थी. जिन लोगों के लाइसेंस रद्द किये गए है. उनमे हि’स्ट्रीशी’टर गुलफूल प्रधान का बेटा आबिद अली और वदूद के भी ह’थिया’रों के लाइ’सेंस शामिल हैं. इसके अलावा शाति’र अ’परा’धी मोहम्मद आसिफ उर्फ दुर्रानी, तालिब, जैद अख्तर, मोहम्मद असगर और अफान उर्फ सोनू के भी शस्त्र लाइसेंस भी नि’रस्त किए गए हैं. 

इस मामले में प्रशासन की तरफ से साफ़ तौर पर कहा गया है कि शस्त्र लाइसेंस रद्द होने के बाद इनको जो भी जमा नहीं करेगा उस पर कड़ी का’र्यवा’ई की जाएगी. आपको बता दे की अतीक अहमद से जुड़े 60 अ’पराधि’यों को सरकार ने अपनी रडार पर रखा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *