Categories
Other

बस वि’वाद पर योगी सरकार ने प्रियंका गांधी पर साधा नि’शाना, कहा ‘दूसरे राज्यों की…’

कोरोंना का’ल में भी कांग्रेस पार्टी मजदूरों को लेकर राजनीति करने में पीछे नहीं हट रही हैं. मजदूरों को उनके गृह जनपद भेजने के लिए सरकार ने सभी तरह की व्यवस्था कर रखी हैं. लेकिन उसके बाद भी कांग्रेस पार्टी को मजदूरों को लेकर राजनीति करनी हैं और वो वही कर रही हैं. कांग्रेस और यूपी सरकार के बीच बस पॉलिटिक्स को लेकर त’ल्खी बढती जा रही हैं.

उत्तर प्रदेश के परिवहन मंत्री अशोक कटारिया ने कांग्रेस पर आ’रोप लगाया कि ‘कांग्रेस प्राइवेट बसों के बजाय राजस्थान रोडवेज की बस भेज रही है, जो हम किसी पार्टी से नहीं ले सकते हैं. अगर हमें राजस्थान रोडवेज की बस लेनी होगी तो सरकार आपस में बात करके लेगी.’

परिवहन मंत्री अशोक कटारिया ने आगे कहा कि ‘हमारे पास पर्याप्त बसें हैं और हम इस सं’कट की घडी में जो लोग भी यूपी के बाहर फं’से हैं. उनको उनके गृह जनपद पहुँचाने का काम हमारी सरकार कर रही हैं. लेकिन कांग्रेस इस वक़्त भी सिर्फ राजनीतिक रोटियां सेंक रही हैं. परिवाहन मंत्री ने ये भी बताया कि कांग्रेस ने जो कहा कि 879 बसें ठीक हैं वो सारी बसे राजस्थान सरकार की हैं. परिवाहन मंत्री ने कहा हैं कि अगर कांग्रेस पार्टी और प्रियंका गाँधी को इतनी ही चिंता हैं तो जहाँ पर उनकी सरकार है,उस राज्य में क्यों नहीं भजे रही हैं बसे और अगर कांग्रेस को इतनी ही चिंता है तो राजस्थान से सीधे मजदूरों को उत्तर प्रदेश भेज दें क्या दिक्कत हैं?

परिवाहन मंत्री कांग्रेस पर आ’रोप लगाते हुए कहा कि मजदूरों कि अगर इतनी चिंता हैं तो उनको बॉर्डर पर लाकर क्यों छोड़ा जा रहा हैं.? परिवाहन मंत्री ने कहा कि हम किसी पार्टी से बसे नहीं ले सकते हैं. अगर सरकार से लेनी होगी बसे तो उसका एक तरीका होता हैं. उस तरीके के हिसाब से बस लेंगे लेकिन आपको बता दें कि उतर प्रदेश सरकार के पास मजदूरों को लाने के लिए पर्याप्त बसे हैं. इसलिए कांग्रेस मजदूरों को लेकर द’लग’द राजनीति न करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *