Categories
Other

योगी सरकार ने प्रियंका गाँधी से मांगी 1000 बसों की लिस्ट, कांग्रेस ने दे दिया कार, बाइक और ऑटो के नंबर

प्रवासी मजदूरों के लिए बस उपलब्ध कराने की कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी की पेशकश ने उत्तर प्रदेश में सियासी बवंडर मचा दिया है. इस मुद्दे पर यूपी सरकार और कांग्रेस के बीच आरोप प्रत्यारोप शुरू हो गया है.

प्रियंका गाँधी ने प्रवासी मजदूरों के लिए 1000 बसें उपलब्ध करने की पेशकश की तो यूपी सरकार ने भी उनकी पेशकश को मानते हुए बसें उपलब्ध कराने को कहा और साथ ही बसों की डिटेल भी मांगी. कांग्रेस ने एक हजार बसों की लिस्ट सरकार को भेज दी थी. इसके बाद सरकार की ओर से सभी बसों को लखनऊ में उपलब्ध कराने की चिट्ठी लिखी गई थी. इसपर कांग्रेस ने सवाल उठाये कि मजदूर जब गाजियाबाद में हैं तो बसें लखनऊ क्यों? इसपर यूपी सरकार के गृह विभाग ने प्रियंका गांधी वाड्रा के सचिव को लिखे खत में कहा कि 500 बसें गाजियाबाद के साहिबाबाद में और 500 बसें नोएडा में उपलब्ध करा दीजिए. सभी बसों को दोनों जिलों के जिलाधिकारी रिसीव करेंगे. सरकार की ओर से दिन के 12 बजे तक इन बसों को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं.

लेकिन अब सियासी महाभारत में एक नया मोड़ आ गया है. बताया जा रहा है कि कांग्रेस ने जो बसों की डिटेल सरकार को उपलब्ध करवाई है उसमे गड़बड़झाला है. क्योंकि प्रियंका के ऑफिस की तरफ से दी गई लिस्ट में कुछ नंबर मोटरसाइकिल, कार और तिपहिया वाहनों के हैं. ये दावा किया है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार ने. हालाँकि अभी तक इसपर कांग्रेस या प्रियंका गाँधी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *