Categories
News

यूपी के विश्वविद्यालयों की परीक्षाओं को लेकर सरकार ने उठाया बड़ा कदम, अब केवल इन छात्रों के होंगे एग्जाम बाकी को…

देश इस समय कोरोना से जूझ रहा है. हर दिन मरीजों की संख्या एक नया रिकॉर्ड बना रही है. ऐसा कोई दिन नही जा रहा जिस दिन हजारों की संख्या में मरीज सामने नही आ रहे हों और सैंकड़ों अपनी जान नही दे रहे हों. पिछले 24 घंटे में 30 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले सामने आये है, जिसके बाद 9 लाख 74 हजार के पार हो गयी है. कोरोना के चलते देश में रेल सेवा के साथ तमाम चीजें प्रभावित हुई. इसी बीच उत्तरप्रदेश सरकार ने विश्वविद्यालयों और कॉलेज की परीक्षाओं को लेकर बड़ा फैसला लिया है.

जानकारी के लिए बता दें कोरोना के चलते विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं नही हो पायी थी. काफी समय तक इंतजार किया गया कि स्थिति सुधरे लेकिन ऐसा हुआ नहीं और स्थिति बिगड़ती गयी, जिसके चलते सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. कोरोना महामारी के मद्देनजर उत्तरप्रदेश के राज्य विश्वविद्यालयों की फाइनल ईयर या फाइनल सेमेस्टर की परीक्षाएं छोड़कर अन्य परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया है.

अब सरकार के आदेशानुसार केवल फाइनल ईयर और फाइनल सेमेस्टर की ही परीक्षाएं करवाई जायेंगी बाकी छात्र छात्राओं को आंतरिक मूल्यांकन और पिछले वर्ष मिले अंक के आधार पर प्रमोट कर दिया जायेगा. उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने ये जानकारी दी है. सरकार की एडवाइजरी के अनुसार राज्य के विश्वविद्यालयों और कॉलेजों को अंतिम वर्ष और लास्ट सेमेस्टर की परीक्षा सितंबर 2020 तक करवानी होंगी.

गौरतलब है कि दिनेश शर्मा ने कहा है कि फाइनल ईयर में समय कम होगा इसीलिए बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जा सकेंगे. जिसके लिए विश्वविद्यालय 23 जुलाई तक अंतिम वाढ के छात्रों की परीक्षा का कार्यक्रम तैयार कर लिया जायेगा. वहीँ सरकार के इस फैसले में इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कोर्स के लिए कोई एडवाइजरी जारी नही की है. इनकी परीक्षाओं के बारे में प्राविधिक शिक्षा विभाग ही अंतिम निर्णय लेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *