Categories
Other

सचिन पायलट के तेवर देख नींद से जागी सोनिया गाँधी, हालात सँभालने दिल्ली से तीन नेताओं को भेजा जयपुर

राजस्थान में सचिन पायलट ने कांग्रेस की नींद उड़ा दी है. मध्य प्रदेश गंवाने के बाद अब राजस्थान भी कांग्रेस के हाथ से निकलता दिख रहा है. पायलट को साधने के लिए भाजपा ने उनके करीबी दोस्त ज्योतिरादित्य सिंधिया को आगे कर दिया है. जयपुर छोड़ कर पायलट ने दिल्ली में डेरा डाल दिया है. इतना कुछ होने के बाद कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गाँधी की नींद खुली और वो राजस्थान बचाने के लिए सक्रिय हुईं. पार्टी में मची महाभारत को ख़त्म करने के लिए उन्होंने तीन नेताओं को दिल्ली से जयपुर रवाना किया है.

अजय माकन, रणदीप सुरजेवाला और अविनाश पांडे को सोनिया गाँधी में राजस्थान में मचे घमासान को काबू करने की जिम्मेदारी सौंपी है. लेकिन जिस तरह से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को ATS और SOG का नोटिस भिजवाया उससे भड़के और अपमानित महसूस कर रहे सचिन पायलट के शायद ही इतनी आसानी से माने.

इधर पायलट को साधने के लिए उनके दोस्त ज्योतिरादित्य सिंधिया मैदान में उतर आये हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सचिन पायलट के समर्थन में ट्वीट करते हुए लिखा, ‘सचिन पायलट को भी राजस्‍थान सीएम द्वारा साइडलाइन और सताया जाता देख दुखी हूं. यह दिखाता है कि कांग्रेस में प्रतिभा और क्षमता की कद्र नहीं है.’ ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस ट्वीट ने कांग्रेस में हडकंप मचा दिया है. भाजपा बिना कुछ कहे सिंधिया को आगे कर ये दिखाने की कोशिश में है कि कांग्रेस में उपेक्षा के शिकार प्रतिभावान नेताओं के लिए भाजपा में सही और बड़ी भूमिका है. ज्योतिरादित्य सिंधिया का ये ट्वीट बहुत तेजी से वायरल हो रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *