Categories
News

राजस्थान में अब अगर आपने तेहरवीं का भोज करवाया तो आपकी खैर नहीं, गहलोत सरकार ने जारी किये निर्देश

देश में कोरोना के मरीजों की रफ़्तार बेहद तेजी से बढ़ती जा रही है. हर दिन 20 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं, पिछले 5 दिनों में मरीजों की संख्या 1 लाख से ज्यादा बढ़ी है. वहीँ सैंकड़ों लोग अपनी इस वायरस के चलते जान दे रहे हैं. देश में अब कोरोना के मरीजों की संख्या 7 लाख 46 हजार के पार हो गयी है. जिसके चलते केंद्र सरकार और राज्य सरकारों की नींद उड़ी हुई है.

जानकारी के लिए बता दें कोरोना महामारी के लगातार बढ़ रहे प्रकोप के चलते राजस्थान की गहलोत सरकार ने बहुत बड़ा फैसला लिया है. राजस्थान सरकार ने बढ़ते प्रकोप के चलते अपने दिशा निर्देश भी जारी किये हैं जिसे जनता को पालन करना होगा. राज्य सरकार ने कहा है कि अब किसी की मृ’त्यु के बाद तेहरवीं का भोज करवाया तो जेल तक काट’नी पड़ सकती है.

दरअसल गहलोत सरकार ने साफ़ कहा है कि अब तेहरवीं का भोज करवाया तो दो’षी व्यक्ति को जेल भेजा जा सकता है. इतना ही नहीं ऐसे मामले अब सामने आने के बाद उस गाँव के सरपंच या पटवारी पर भी का’र्रवाई की जाएगी. सरकार ने जारी दिशा निर्देश में राजस्थान मृ’त्यु भोज निवारण अधिनियम-1960 को सख्ती से पालन करने के आदेश दिए हैं.

सरकार ने साफ़ किया है कि इस अधिनियम के तहत सूचना न्यायलय को दिए जाने की जिम्मेदारी गाँव के सरपंच और पटवारी की है. सरकार के इस प्रावधान का उलंघन किया तो इनपर भी कार्रवाई की जाएगी. राजस्थान में इस समय कोरोना के मरीजों की संख्या 21 हजार 577 है, जिसमें से 4516 केस एक्टिव हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *