Categories
Other

राजस्थान के सियासी ड्रामे में नया मोड़, हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ स्पीकर पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

राजस्थान का सियासी ड्रामा अब हाईकोर्ट ई दहलीज से निकल कर सुप्रीम कोर्ट तक पहुँच चुका है. बुधवार को इस ड्रामे में एक नया मोड़ आ गया. विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी राजस्थान हाईकोर्ट के उस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट चले गए, जिसमे हाईकोर्ट ने कहा था कि 24 जुलाई तक सचिन पायलट और अन्य बागी विधायकों के खिलाफ कोई कारवाई नहीं की जा सकती. एक प्रेस कांफ्रेंस में स्पीकर डॉ. जोशी ने कहा कि सचिन पायलट खेमे को नोटिस याचिका पर हाई कोर्ट से मिली फौरी राहत के खिलाफ अब वो सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर करेंगे.

स्पीकर डॉ. जोशी ने कहा कि ‘पहले कहा गया कि 21 तारीख तक मैं कोई फैसला नहीं हूं, मैंने उसे स्वीकार किया. कल जो भी कहा मैंने उसे भी स्वीकार कर लिया है. लेकिन इस स्वीकार्यता में ये भी ख्याल रखा जाए कि एक अथॉरिटी का दूसरे अथॉरिटी के रोल का अतिक्रमण ना हो. इसके लिए रोल स्पष्ट हैं. अगर ऐसा नहीं होता है तो ये संसदीय लोकतंत्र के लिए खतरा है. इसलिए मैंने आज सुप्रीम कोर्ट जाने का फैसला लिया है.’ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में स्पीकर की तरफ से पैरवी करेंगे.

गौरतलब है कि स्पीकर ने सचिन पायलट गुट के खिलाफ नोटिस जारी किया था जिसके बाद सचिन पायलट गुट ने इस नोटिस के खिलाफ राजस्थान हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया. राजस्थान हाईकोर्ट ने सचिन पायलट गुट को राहत देते हुए 24 जुलाई तक किसी भी तरह की कारवाई पर रोक लगा दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *