Categories
News

रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति की 11 बार हुई बैठक, एक बार भी शामिल नहीं हुए राहुल गाँधी

गलवान घाटी में हुई हिं’सक झ’ड़प के दौरान 20 जवान शही’द हो गए. जिसके बाद से ही देशभर में गुस्से और आक्रो’श का माहौल देखने को मिल रहा है. वही गलवान मामले पर शुरू से ही कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष और नेता राहुल गांधी मोदी सरकार पर नि’शाना साधते हुए आये है. जिसके बाद से ही लगातार दोनों तरफ से एक दूसरे पर आरोप लगाये जा रहे है. वही अब राहुल गांधी पर पल’टवार करते हुए दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने करारा जवाब दिया है.

जेपी नड्डा ने ट्वीट करते हुए कहा है कि राहुल गांधी एक गौरवशाली वंश परंपरा से जुड़े हैं, जहां समिति मायने नहीं रखती. कांग्रेस में कई योग्य सदस्य हैं जो संसदीय मामलों को समझते हैं लेकिन एक राजवंश ऐसे नेताओं को कभी बढ़ने नहीं देगा.

इसके अलावा नड्डा ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा कि राहुल गांधी रक्षा समिति के सदस्य होने के बाद भी एक भी बैठक में शामिल नहीं होते हैं जो नि’राशाजनक है. लेकिन दुख की बात है कि वह लगातार राष्ट्र का मनोबल गिरा रहे हैं, हमारे सश’स्त्र बलों की वीरता पर सवाल उठाते हैं और वह सब कुछ करते हैं जो एक जिम्मेदार वि’पक्षी नेता को नहीं करना चाहिए.

जाहिर है राहुल गाँधी कई बार सेना पर सवाल उठाते हुए आये है. जिसकी वजह से कई बार उन्हें अपने इन्ही सवालों के लिए करारा जवाब भी मिला है. इसके साथ ही बता दें कांग्रेस नेता राहुल गांधी को सितंबर 2019 में रक्षा समिति का सदस्य मनोनीत किया गया था. इस समिति में राहुल गांधी सहित 21 लोकसभा सदस्य और 10 राज्यसभा सदस्य शामिल हैं और पिछले एक साल में कई बैठके हो चुकी है लेकिन राहुल गांधी किसी भी बैठक में शामिल नहीं हुए है. जिससे साफ़ जाहिर होता है कि वो देश की रक्षा के लिए कितने चिं’तित है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *