Categories
Other

मोदी सरकार ने पीएम केयर्स फंड पर सवाल उठाने वालों की बोलती की बंद, फंड से जारी किये गए इतने करोड़ रुपये

कोरोना संकट से निपटने के लिए पीएम मोदी ने पीएम केयर्स फंड का गठन किया था और खुद इसकी डिटेल्स को देशवासियों से साझा किया ताकि देश के लोग इसमें अपना योगदान देसकें. उसके बाद देश के धनकुबेरों ने पीएम एयर्स में दान के लिए अपने खजाने का मुंह खोल दिया. उद्योगपति, अभिनेता, नेता, खिलाड़ी और आमलोग सबने अपनी अपनी क्षमता के अनुसार पीएम केयर्स फंड में पैसे दान किये. लेकिन कांग्रेस ने पीएम केयर्स फंड के गठन के औचित्य पर ही सवाल उठा दिया. कांग्रेसी नेताओं को इसमें घोटाले की आशंका दिखाई देने लगी. कुछ वामपंथी पीएम केयर्स फंड के खिलाफ कोर्ट भी गए. लेकिन अब उन सभी के मुंह को बंद कर दिया गया जो पीएम केयर्स पर सवाल उठा रह थे.

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाले पीएम केयर्स फंड से 3100 करोड़ आवंटित किए गए हैं. प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से पीएम केअर्स फंड के पैसे आवंटित करने की जानकारी दी गई है. पीएम केयर्स फंड से जो 3100 करोड़ रुपये जारी किये गए हैं उनमे से 2000 करोड़ रुपये वेंटिलेटर खरीदने के लिए इस्तेमाल किए जाएंगे. 2000 करोड़ रुपये के 50 हजार वेंटिलेटर खरीदे जाएंगे. ये वेंटिलेटर सभी राज्य, केंद्रशासित प्रदेशों में सरकार द्वारा संचालित COVID- 19 अस्पतालों में दिए जाएंगे. 1000 करोड़ रुपये का इस्तेमाल प्रवासी मजदूरों की देखभाल, उनके रहने की व्यवस्था, खाने के इंतजाम, मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए किया जाएगा. जबकि 100 करोड़ रुपये वैक्सीन के लिए रिसर्च पर खर्च किए जाएंगे.

पीएम केयर्स का गठन 27 मार्च 2020 को किया गया था. इस ट्रस्ट का नेतृत्व प्रधानमंत्री करते हैं. ट्रस्ट के अन्य सदस्य रक्षा मंत्री, गृह मंत्री और वित्त मंत्री हैं. पीएम मोदी की अपील के बाद टाटा ग्रुप ने 1500 करोड़ का डोनेशन पीएम केयर्स में दिया था. जबकि 500 करोड़ की मदद मुकेश अम्बानी ने की थी. अभिनेता अक्षय कुमार ने भी 25 करोड़ का योगदान दिया था. इस ट्रस्ट के गठन पर सवाल उठाते हुए कांग्रेस ने इसका ऑडिट कराने की मांग की थी. सोनिया गाँधी ने तो यहाँ तक कहा था कि जल्द से जल्द पीएम केयर्स के पैसे प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष में ट्रांसफर किये जाने चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *