Categories
Other

मोदी सरकार ने लिया ऐतिहासिक फैसला, अब प्राइवेट कंपनियां भी अंतरिक्ष के क्षेत्र में रखेंगी कदम

पीएम मोदी द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ की आत्मनिर्भर भारत पॅकेज की चौथी क़िस्त का ऐलान आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किया. आज उनका फोकस स्ट्रक्चरल रिफॉर्म पर था. वित्त मंत्री ने आज कुल 8 सेक्टर में सुधारों का ऐलान किया. ये सेक्टर हैं- कोयला, मिनरल, डिफेंस प्रोडक्शन, सिविल एविएशन, पावर डिस्ट्रिब्यूशन, सोशल इन्फ्रा प्रोजेक्ट, स्पेस, एटॉमिक एनर्जी.

रक्षा क्षेत्र के लिय एबादी घोषणाएं करते हुए वित्त मंत्री ने कहा, ‘डिफेंस उत्पान में मेक इन इंडिया पर जोर दिया जाएगा. सेना को जिन आधुनिक हथियारों की जरूरत है, उनका उत्पादन भारत में होगा. आयात न किए जाने वाले उत्पादों की लिस्ट बनेगी. इसके अलावा रक्षा उत्पादन में FDI की सीमा 49 प्रतिशत से बढ़ाकर 74 प्रतिशत की गई है. रक्षा उत्पाद बनाने वाली कंपनियों को शेयर मार्केट में लिस्ट किया जाएगा.

एवियेशन सेक्टर में सुधार की घोषणा करते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा कि देश के 6 एयरपोर्ट को नीलाम किया जाएगा. भारतीय नागरिक विमानों को लंबे रास्ते लेने पड़ते हैं. इसे सुगम बनाया जाएगा. दो महीने के अंदर यह काम किया जाएगा. इससे विमानन क्षेत्र को 1 हजार करोड़ रुपये का फायदा होगा. एयर फ्यूल भी बचेगा और पर्यावरण भी बचेगा.

सबसे चौंकाने वाली घोषणा स्पेस सेक्टर के लिए रही. वित्त मंत्री ने कहा कि अंतरिक्ष के क्षेत्र में प्राइवेट कंपनियों को मौका दिया जाएगा. ISRO की सुविधाओें का प्रयोग भी निजी कंपनियां कर पाएं ऐसी व्यवस्था की जायेगी. ऐसे में अगर आने वाले दिनों में आपको रिलायंस या टाटा अंतरिक्ष के क्षेत्र में कदम रखते हुए दिखे तो आश्चर्य नहीं होना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *