Categories
News

उत्तराखंड से नेपाल भेजे एक पत्र ने उड़ाई नेपाली PM ओली की नींद,जानिए क्या है ऐसा ख़ास

नेपाल और भारत के बीच सीमा वि’वाद को लेकर रि’श्तों में खटा’स आ गयी है. जिसके बाद अब दोनों ही देशो के रि’श्ते सुधरने की वजह और बिग’ड़ते जा रहे है. वही अब इस मामले में नया मो’ड़ आया है. दरअसल नेपाल में उत्तराखं’ड के पिथौरागढ़ प्रशासन की ओर से एक पत्र भेजा गया है जिसके बाद से ही वि’वाद छि’ड़ गया है.

दरअसल धारचूला के एसडीएम अनिल कुमार शुक्ला ने एक पत्र लिखकर नेपाल के जिला प्रशासन से अपी’ल की थी कि नेपालियों को भारतीय क्षेत्र में अ’वैध तरीके से घु’सने से रोकें. साथ ही सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक गुंज, कालापानी और लिम्पियाधुरा में नेपाली चो’री-छि’पे घु’स रहे हैं.

साथ ही पत्र में लिखा गया है कि कुछ समूह अवै’ध तरीके से सीमा पार करने की कोशिश कर रहे हैं और मीडिया का ध्यान खींचने के लिए गुंज, कालापानी और लिम्पियाधुरा में घुस रहे हैं. इससे दोनों देशों के प्रशासन को परे’शानी हो रही है इसलिए आपसे अनुरो’ध है कि अगर आपको इस तरह की कोई भी जानकारी मिले तो हमें तुरंत सूचना दें.

हालाँकि अभी तक नेपाल सरकार ने इस पर अपनी कोई प्रति’क्रिया नहीं दी है लेकिन नेपाली मीडिया को इस बात से मिर्ची लग गयी है जिसकी वजह से नेपाली अख़बार ने इस खबर को खिलते हुए शीर्षक दिया- भारत का आपत्ति’जनक पत्र: नेपाली कालापानी और लिम्पियाधुरा में चो’री-छि’पे घु’स रहे. जिसके बाद अब दोनों देशो के बीच एक बार फिर से तना’व बनने की स्थिति उ’त्पन्न हो गयी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *