Categories
Other

रेल मंत्रालय चलाने जा रहा हैं 200 नई ट्रेन, सफर करने के लिए जानिए क्या है नए नियम?

कोरोना सं’कट के दौर में ट्रेन से जाने वाले लोगों के लिए एक बड़ी खुशखबरी हैं. क्योकि रेल मंत्रालय ने अगले महीने से ट्रेन चलाने का आदेश दिया हैं. जबकि देश के अंदर लॉक डाउन का दौर चल रहा हैं. कोरोना की वजह से देश की इकॉनमी भी पटरी से उतर गई है. जिसको पटरी पर लाने के लिए केंद्र सरकार ने धीरे- धीरे कदम बढ़ना शुरू कर दिया है. रेल मंत्रालय ने ये फैसला लिया है कि 1 जून से 200 के करीब ट्रेन चलाएगी.

ट्रेन से यात्रा करने वाले लोगों के लिए एक अच्छी खबर आ रही हैं. इंडियन रेलवे 1 जून से 200 नई ट्रेन चलाने जा रहा हैं. इन ट्रेनों के लिए टिकट की बुकिंग 21 मई यानी आज सुबह 10 बजे से शुरू हो चुकी है. जो ट्रेन चलेंगी उन ट्रेन को नए नियाम के हिसाब से चलाया जायेगा. जो 200 के करीब ट्रेन चलेंगी उनमे सबसे बड़ा बदलाव ये होगा कि जो यात्री जनरल कोच में सफ़र करेंगे इस बार उनको भी रिजर्वेशन करवाना होगा. इतना ही नहीं अगर यात्री के पास कन्फर्म टिकट नहीं है तो यात्री यात्रा नहीं कर पाएंगे.

आपको बताते हैं यात्रियों के लिए क्या है नए नियम:

  1. 200 ट्रेनों के लिए सिर्फ IRCTC की आधिकारिक वेबसाइट या मोबाइल ऐप के माध्यम से ऑनलाइन ई-टिकटिंग की सुविधा होगी. ट्रेन के लिए काउंटर नहीं खोले जायेंगे. आपको बता दें कि एजेंट से जो लोग टिकट बुक करवाते है. तो वो लोग इन ट्रेनों का टिकट बुक नहीं कर पाएंगे. टिकेट की बुकिंग सिर्फ IRCTC की वेबसाइट से ही होगी.
  2. अग्रिम आरक्षण की अवधि (ARP) अधिकतम 30 दिन होगी. इसका मतलब ये हुआ है कि यात्री इन 200 ट्रेनों के लिए टिकट की बुकिंग यात्रा के दिन से 30 दिन पहले या 30 दिन के अंदर करा सकेंगे. जैसे 30 जून की यात्रा के लिए यात्री 1 जून से 30 जून तक टिकट करवा सकते हैं.
  3. जो यात्री यात्रा करेंगे उनको RAC और वेटिंग टिकट मौजूदा नियमों के अनुसार ही दिया जाएगा. जबकि जिन यात्रियों के पास वेटिंग टिकट होगा उन यात्रियों को ट्रेन में चड़ने की अनुमति नहीं दी जाएगी.  बता दें कि वर्तमान नियमों के मुताबिक एसी 1 में 20, एसी 2 में 50, एसी 3 में 100 और स्लिपर कोच में 200 वेटिंग टिकट बुक किया जा सकता है.
  4. यात्रा के दौरान की भी यात्री को अ’नारक्षित टिकट जारी नहीं किया जायेगा. इसका  मतलब ये हुआ कि जो भी टिकट चेक करने आते हैं वो यात्रियों ट्रेन में टिकेट बना के नहीं दे सकते हैं.
  5. इन ट्रेनों में कोई भी प्रीमियम या तत्का’ल प्रीमियम की कोई भी गुंजाइश नहीं हैं. प्रीमियम टिकट की बुकिंग नहीं होगी.
  6. पहले जब ट्रेन चलती थी तो चार्ट को ट्रेन के चलने के समय से कम से कम 4 घंटे पहले तैयार किया जाता था. जो दूसरे चार्ट होता था उसको ट्रेन चलने के दो घंटे पहले तैयार किया जाता था. लेकिन अब पहले और दूसरे चार्ट की तैयारी के बीच केवल ऑनलाइन टिकट बुकिंग की अनुमति होगी.
  7. अब ट्रेन में सभी यात्रियों की पूरी तरह से जाँच होगी और जो यात्री स्वस्थ होंगे सिर्फ उनको ही ट्रेन में यात्रा करने की अनुमति होगी.
  8. रेलवे स्टेशन पर वही यात्री आ सकेंगे जिनके पास कन्फर्म टिकट होगा. बाकि कोई भी यात्री स्टेशन नहीं जा पायेगा.
  9. जो भी यात्री यात्रा करेंगे उनको मास्क पहना अनिवार्य होगा और सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करना होगा.
  10. ट्रेन से सफ़र करने वाले यात्रियों को 90 मिनट पहले स्टेशन पहुचना होगा और वहां पर जाकर अपना थर्मल स्क्रीनिंग करवानी होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *