Categories
Other

एक महीने में चौथी बार फिर हिली दिल्ली, लगातार आते भूकंप के झटकों से दशहत में लोग

एक बार फिर देश की राजधानी दिल्ली में भू’कंप के झ’टके महसूस किये गए है. ऐसा पहली बार नहीं हुआ है. इससे पहले भी एक महीने में 3 बार भू’कंप के झ’टके महसूस किये गए है और ये चौथी बार है. जब दिल्ली में भू’कंप ने अपनी दस्त’क से लोगो को ड’रा के रख दिया है.

बता दें इस बार भूकं’प के झ’टके दिल्ली के पीतमपुरा मे आया. हालाँकि नैशनल सेंटर फॉर सीस्‍मोलॉजी के मुताबिक इस बार बहुत कम ती’व्रता से भू’कंप आया. रिक्‍ट’र स्‍’केल पर इसकी तीव्र’ता 2.2 थी. यह भू’कंप 11 बजकर 28 मिनट पर आया था. तीव्र’ता कम होने क कारण भूकं’प के झ’टके लोगो को ज्यादा महसू’स नहीं हुए.

लॉकडाउन होने के बाद ये चौथी बार है जब दिल्ली में भू’कंप आया है. इससे पहले 10 मई को 3.5 की ती’व्रता से झ’टके महसूस किये गए. इसके अलावा 12 और 13 अप्रैल को भी दिल्ली में भू’कंप के झ’टके महसूस किए गए थे.

हालाँकि इस बार तीव्र’ता कम होने की वजह से किसी भी तरह का कोई नुकसा’न होने की कोई खबर नहीं है. लेकिन यह एक चिं’ता का विषय है क्यंकि क महीने में दिल्ली में चार बार भू’कंप आना. दरअसल लॉकडाउन की वजह से लोग अपने घरो में है. ऐसे में भू’कंप आना आना लोगो में परेशा’नी और बढ़ा रहा है.

वही बात की जाए NCS के हेड (ऑपरेशंस) जे एल गौतम ने टीओआई की तो उनका कहना है कि इन लो’कल और कम तीव्र’ता वाले भू’कंपों के लिए, फॉ’ल्‍ट लाइन की जरूरत नहीं है. धरा’तल के नीचे छोटे-मोटे एड’जस्‍टमेंट्स होते रहते हैं और इससे कभी-कभी झ’टके महसूस होते हैं. बड़े भू’कंप फॉ’ल्‍ट लाइन के किनारे आते हैं. इससे साफ जाहिर होता है कि ज्यादा ती’व्रता वाले भूकं’प किस लेव’ल पर आते है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *