Categories
Other

ये क्रिकेटर परिवार पालने के लिए कभी करता था मजदूरी, अब बना दिया वर्ल्ड रिकॉर्ड!

किस्मत का कोई भरोसा नहीं होता हैं. कब कोई इंसान फ़क़ीर से राजा बन जाता हैं, और कभी राजा से फ़क़ीर. इन बातों में एक बात और होती हैं जो आपको आपके मुकाम तक पहुँचाने में मदद करती हैं वह बात होती है आपकी मेहनत. जी हाँ आप जितनी मेहनत करोगे आपकी मंजिल आपके करीब होती हैं. एक खिलाड़ी के साथ कुछ ऐसा ही हुआ हैं. आज से 18 महीने पहले तक वह मजदूरी करके अपना और अपने परिवार का पेट पालता था. आइये जानते हैं उस खिलाड़ी का नाम.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट में भले ही न्यूजीलैंड की टीम को 247 रनों की करारी हार झेलनी पड़ी लेकिन इस मुकाबले में उसके एक खिलाड़ी ने इतिहास रच दिया. हम बात कर रहे हैं टॉम ब्लंडेल की जो अपने क्रिकेट करियर में पहली बार बतौर ओपनर मैदान पर उतरे और मेलबर्न टेस्ट की दूसरी पारी में रिकॉर्डतोड़ शतक ठोका. जिस पिच पर दूसरे कीवी बल्लेबाज सरेंडर करते दिख रहे थे वहीं ब्लंडेल ने 210 गेंद में 15 चौकों की मदद से 121 रनों की पारी खेली. आज हम आपको बताने जा रहे हैं टॉम ब्लंडेल की एक ऐसी सच्चाई जो बहुत ही कम लोग जानते हैं.

इस पारी से 18 महीने पहले तक वो एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में मजदूरी कर रहे थे. वेलिंग्टन के लिए फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलने वाले ब्लंडेल के पास घरेलू क्रिकेट का करार तो था लेकिन न्यूजीलैंड में घरेलू क्रिकेट 7 महीने तक ही होता, बाकी के 5 महीने अपना परिवार पालने के लिए खिलाड़ी दूसरी नौकरियां करते हैं. ब्लंडेल अपने दोस्त की कंस्ट्रक्शन कंपनी में मजदूरी करते थे.

ब्लंडेल सिर्फ मजदूरी ही नहीं फोटोग्राफी भी करते हैं. ब्लंडेल को ड्रोन फोटोग्राफी का शौक है. वो वेलिंगटन की टीम के साथ जहां भी खेलने जाते हैं, उस मैदान की वो जमीन से काफी ऊपर से फोटो खींचते हैं. इसके लिए वो ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल करते हैं. बता दें दो साल पहले ब्लंडेल ने न्यूजीलैंड के लिए टेस्ट डेब्यू किया था और उन्होंने अपने पहले टेस्ट में ही शतक ठोक दिया था. हालांकि इसके बाद उन्हें महज एक और टेस्ट में मौका दिया गया और फिर उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *