Categories
Other

जल्द ही अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में खेल सकते हैं, इन 5 महान खिलाड़ियों के बेटे!

क्रिकेट के दुनिया में कई ऐसे खिलाड़ी है जो अपने बेहतरीन प्रदर्शन के वजह से लोगों के दिलों पर राज करते हैं. वर्तमान में नहीं खेलने रहे फिर भी उनके चाहने वालो की संख्या काफी है. लेकिन आज हम आपको बतायेंगे कि कई ऐसे महान खिलाड़ी है, जिनके बच्चे उनके नक़्शे कदम पर चल रहे हैं और जल्द ही अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में दिखाई देंगे.

सबसे पहले हम बात करते है क्रिकेट के भगवान की जिनके नाम अनेक विश्व रिकॉर्ड दर्ज हैं. जी हाँ हम बात कर रहे हैं सचिन तेंदुलकर की. अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सचिन ने सबसे अधिक 34357 रन बनाए हैं, जिसमे 100 शतक और 164 अर्द्धशतक शामिल है. सचिन तेंदुलकर के बेटे का नाम अर्जुन तेंदुलकर है. अर्जुन बाएं हाथ से तेज गेंदबाजी और बाएं हाथ से बल्लेबाजी करते हैं. इस तरह वो एक ऑलराउंडर है जो टीम इंडिया के आगामी क्रिकेटर हो सकते हैं.

स्टीव वाँ ऑस्ट्रेलिया 168 टेस्ट मैचों में 32 शतक और 50 अर्द्धशतक की मदद से 10927 रन बनाए हैं जबकि 92 विकेट भी झटके हैं. वहीँ वनडे क्रिकेट में स्टीव वाँ ने 325 मैचों में 3 शतक और 45 अर्द्धशतक की मदद से 7569 रन बनाए हैं इसके अलावा गेंदबाजी करते हुए 195 विकेट भी ले चुके हैं. स्टीव वॉ के बेटे का नाम ऑस्टिन वॉ हैं जो अपने पिता की तरह ही गेंद और बल्ले से बेहतर खेल दिखाते हैं. साल 2018 में खेले गए अंडर-19 विश्व कप में ऑस्टिन वॉ ने अपने खेल से लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचा था.

शिवनारायण चंद्रपॉल वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के लिए 164 वनडे मैच खेले हैं, जिसमे उन्होंने 30 शतक और 66 अर्द्धशतक की बदौलत 11867 रन बनाए हैं जबकि 268 वनडे मैचों में शिवनारायण चंद्रपॉल 11 शतक और 59 अर्द्धशतक की बदौलत 8778 रन बनाए हैं. इनके बेटे का नाम तेजनारायण चंद्रपॉल है. जिन्हें पिछले कुछ समय से लगातार घरेलू क्रिकेट खेलते हुए देखा जा रहा है उस दौरान उन्होंने ठीक-ठाक प्रदर्शन की है.

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज मखाया एंटिनी की बात की जाए तो वो 101 टेस्ट मैचों में 28.83 की औसत के साथ 390 विकेट ले चुके हैं. उस दौरान उन्होंने 18 बार 5 और 4 बार 10 विकेट हासिल किया है. वहीँ 173 वनडे मैचों में मखाया 266 और 10 टी-20 मैच में 6 विकेट झटके हैं. मखाया एंटिनी के बेटे का नाम थांडो एंटिनी हैं. जो अपनी गेंदबाजी से लोगों का ध्यान अपनी तरफ केन्द्रित किया हैं. अंडर-19 क्रिकेट टीम के लिए थांडो ने बहुत सारे विकेट चटकाए हैं.

भारतीय क्रिकेटर राहुल द्रविड़ की बात करे तो उन्होंने 164 टेस्ट मैचों में 36 शतक और 63 अर्द्धशतक की मदद से 13288 रन बनाए हैं. वनडे क्रिकेट में द्रविड़ 344 मैचों में 12 शतक और 83 अर्द्धशतक की बदौलत 10889 रन बनाए हैं. इसके अलावा एक टी-20 में उन्होंने 31 रन बनाए हैं. इनके बेटे का नाम समित द्रविड़ है. समित द्रविड़ अंडर-14 क्रिकेट टीम के लिए खेलते हैं, कहा जा रहा है आने वाले समय में वो भी टीम इंडिया के लिए खेलते हुए नजर आ सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *