Categories
News

कानपुर मु’ठभेड़ मामले में पुलिस ने विकास दुबे के घर के बाद अब उनकी महंगी गाड़ियों को भी किया नेस्तना’बूत

उत्तर प्रदेश का जिला कानपुर इस समय चर्चा का विषय बना हुआ हैं. उसका कारण है कि कल पुलिसकर्मियों पर घा’त लगाकर ब’दमाशों ने अं’धाधु’न्द फाय’रिंग करना शुरू कर दिया है और उसमे डिप्टी एसपी समेत 8 पुलिसकर्मी शही’द हो गये थे. जिसके बाद यूपी पुलिस एक्शन मोड में आ गई हैं और विकास दुबे मामले की जांच को एसटीफ को दे दी गई हैं. जिसके बाद एक बड़ा खुलासा हुआ हैं. इस जांच में पता चला है कि कुछ पुलिस वाले भी विकास दुबे के साथ संपर्क में थे.

कानपुर में पुलिस टीम पर ह’मले के मुख्य आरो’पी विकास दूबे के घर और अन्य संपत्तियों पर कानपुर प्रशासन ने एक बड़ी सर्जि’कल स्ट्रा’इक की है. कानपुर के जिस घर से विकास दूबे ने पुलिस टीम पर फा’यरिंग की थी, उसे जेसीबी से गिराया गया है और उस पूरे घर को ज़मीदोज कर दिया गया हैं. उसी जेसीबी से जिससे विकास ने पुलिस वालों को रोकने के लिए इस्तेमाल किया था. इतना ही नही पुलिस ने विकास के वाहनो को भी नेस्तनाबूत कर दिया है.

विकास दुबे के घर में फॉर्च्यूनर और स्कॉर्पियों दो गाड़ियां मौजूद थीं. इनमें से एक गाड़ी विकास के नाम पर है, जबकि दूसरी गाड़ी किसी अमन तिवारी के नाम पर रजिस्टर्ड है. पुलिस ने इन दोनों वाहनों को सीज कर दिया है. विकास के पिता को पुलिस ने घर से निकालकर दूसरे स्थान पर पहुंचाया है. विकास दुबे के खि’लाफ हुए एक्शन को अवै’ध नि’र्माण के रूप में देखा जा रहा है. इस पूरे मामले की जां’च एसटीएफ को सौंप दी गई है. जिसके बाद एक बड़ा खुलासा हुआ है कि चौबेपुर के एसओ विनय तिवारी को स’स्पेंड कर दिया गया है. बताया ये जा रहा है कि विनय विकास दुबे से मिले थे. ऐसा कॉल डिटेल आने के बाद यब बात सामने आई है.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *