Categories
Other

भाजपा के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का निधन, पार्टी में शोक की लहर

मंगलवार की सुबह भाजपा के लिए एक बुरी खबर आई. पार्टी के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का निधन हो गया. वो लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती थे. सोमवार से ही उनकी तबियत गंभीर थी. लालजी टंडन वेंटिलेटर पर थे. उनके बेटे उनके बेटे आशुतोष टंडन ने अपने पिता के निधन की जानकारी दी. 85 वर्ष की उम्र में उन्होंने आखिरी सांस ली.

लालजी टंडन भाजपा के उन नेताओं में से थे जो पार्टी की स्थापना के साथ से ही पार्टी के साथ थे. पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के बहुत करीबी थे. जब वाजपेयी ने राजनीति से सन्यास लिया तो लालजी टंडन ने लोकसभा सीट लखनऊ से उनका प्रतिनिधित्व किया. वो वाजपेयी के बाद लखनऊ से सांसद चुने गए. वाजपेयी और लालजी टंडन का साथ 5 दशकों का रहा.

लालजी टंडन का राजनीतिक जीवन हमेशा साफ़ सुथरा रहा और उन्होंने पार्टी के परे भी दोस्त बनाए. बसपा सुप्रीमों मायावती उन्हें अपना भाई मानती थीं और उन्हें राखी बाँधा करती थीं. 90 के दशक में प्रदेश में बीजेपी और बसपा की गठबंधन सरकार बनाने में भी उनका अहम योगदान माना जाता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *