Categories
News

भारत के बाद अब अमेरिका ने बड़ा कदम उठाते हुए चीन पर की डिजिटल स्ट्राइक, इन कंपनियों पर लगाया बैन

लद्दाख की गलवान घाटी में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों के बीच विवाद थम नही रहा है. चीन एक तरफ तो पूरी दुनिया में कोरोना वायरस फैलाने के चलते ही आलोचना झेल रहा है वहीं दूसरी ओर सीमा पर भारत को आंख दिखा रहा है. अपनी इन घटिया हरकतों के चलते चीन आज पूरी दुनिया में गिर चुका है. हर कोई देश उसकी मक्कारी को समझ गया है.

जानकारी के लिए बता दें चीन को सबक सिखाने के लिए भारत सरकार ने एक के के बाद एक करके चीन को कई बड़े झटके दे दिए हैं. मोदी सरकार द्वारा उठाये जा रहे क़दमों के बाद अब चीन चौतरफा घिरता जा रहा है. इसी बीच एक बड़ी खबर USA से आ रही है जिसे जानने के बाद चीन की नींद उड़ जाएगी. जी हाँ पीएम मोदी की राह पर चलते हुए अब अमेरिका ने भी चीन को बड़ा झटका दे दिया है. भारत के बाद अब अमेरिका ने भी चीन पर डिजिटल स्ट्राइक की है.

भारत के बाद अब अमेरिका ने भी चीनी कंपनियों को झटका देना शुरू कर दिया है.भारत सरकार ने अभी हाल ही में चीन के 59 ऐप पर बैन लगा दिया था, जिसके बाद अब अमेरिका के टेलिकॉम रेगुलेटर ने हुवावे और ZTE के उत्पादों पर जासूसी करने के आरोप में बैन लगा दिया है. दरअसल अमेरिका ने फेडरल कम्युनिकेशन कमीशन ने मंगलवार को 5-0 की वोटिंग के अधर पर इन कंपनियों को खतरनाक बताते हुए ये फैसला लिया है.

गौरतलब है कि अमेरिकी सरकार ने इन चीनी कंपनियों के साथ एक करार भी किया था जिसके अंतर्गत अमेरिका को 8.3 बिलियन डॉलर का सामान भी खरीदना था जिसपर भी अमेरिका ने रोक लगा दी है. इस फैसले के बाद FCC के अध्यक्ष अजीत पाई ने कहा है कि हुवावे और ZTE ये दोनों ही टेलिकॉम कंपनियां 8.3 बिलियन के यूनिवर्सल सर्विस फंड का इस्तेमाल नही कर पायेगी. अब अमेरिका के इस कदम के बाद चीन को दोहरा झटका लगा है. वहीँ खबर ये भी आ रही है कि अमेरिका और भी चीनी कंपनियों पर जल्द ही रोक लगा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *