Categories
Other

चाइना की अतिक्रमण नीति पर अमेरिका ने बयान जारी कर दी सख्त हिदायत

चीन और भारत के बीच काफी समय से अनबन चल रही है या ये कह सकते है की तना’तनी चल रही है. भारत और चीन के बीच लद्दाख बॉर्डर को लेकर खू’नी संघ’र्ष हुआ था. जिसमे भारत ने चीन को मु’हंतो’ड़ जवाब दिया था. अब इस कड़ी में अमेरिका भी खुलकर भारत के साथ खड़ा है. चाइना ग्लोबल स्तर पर चारो तरफ से घि’रा हुआ है. अमेरिका ने भी चाइना को साफ़ तौर पर चेताव’नी दे दी है.

अमेरिका ने साफ तौर पर कहा है कि ‘चीन की कम्युनिस्ट पार्टी दुनिया के लिए खत’रा है. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने कहा कि ‘चीन ने साउथ चाइना सी में अतिक्र’मण किया है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.’ कल भी अमेरिका की तरफ से चीन के खि’लाफ कड़े कदम उठाने के संकेत दिए जा चुके हैं. अमेरिका ने भी भारत की तरह चीन का टिक टॉक और भी कई चीनी एप्स को बै’न करने की तैयारी में है.

चीन ने भारत के खि’लाफ गलवान घाटी में जो किया है उसको वो अब बहुत मंगा पड़ने वाला है या कह सकते हो की महंगा पड़ रहा है. क्योंकि जबसे भारत ने चीन के खि’लाफ सरहद से लेकर बाजार के ब’हिष्कार वाला मो’र्चा खोला है, तभी से चीन   ग्लोबल गठबंधन के शि’कंजे फंस’ता हुआ नजर आ रहा है. अमेरिका ने बहुत सख्त बयान में चीन की कम्युनिस्ट पार्टी को दुनिया के लिए ख’तरा क’रार दिया है.

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो कई बार चीन के खि’लाफ बोल चुके है और उन्होंने ने पिछले हफ्ते भी चीन के खिला’फ गठबं’धन बनाने की बात कही थी और अब जिस तरह से साउथ चाइना सी को लेकर अमेरिका ने चीन को सीधी चुनौती दी है, उससे चीन और कम्युनिस्ट पार्टी को बहुत साफ संदेश मिल चुका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *