Categories
Other

राजस्थान में सियासी उ’ठापट’क जारी, सचिन पायलट खेमे के दो विधायकों ने कहा कि ‘हम मुख्यमंत्री के काम से…’

राजस्थान में अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच सियासी संग्रा’म जारी है. जो की रुकने का नाम नहीं ले रहा हैं. उधर अभी तक सचिन पायलट ने चुप्पी साध रखी थी. उन्होंने अपने एक इंटरव्यू में कांग्रेस से ब’र्खास्त को लेकर अपने आगे के प्लान के बारे में बताया था. उधर सचिन पायलट को कांग्रेस के डिप्टी सीएम और अध्यक्ष पद से बर्खा’स्त कर दिया गया है. अब सचिन पायलट पर कांग्रेस की तरफ से एक और कड़ी का’र्यवाई की गई है.

राजस्थान कांग्रेस के बागी विधायक स्पीकर के नोटिस के खि’लाफ कोर्ट जा सकते हैं. हाई कोर्ट जायेंगे या सुप्रीम कोर्ट अभी तय नहीं हैं. लेकिन अभी तक ये खबर आ रही है की इस मामले को देखते हुए कानूनी सलाह ली जा रही है. बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने सचिन पायलट समेत 19 कांग्रेस विधायकों को नोटिस भेजकर 17 जुलाई तक जवाब देने को कहा है.

कल का घ’टनाक्र’म बदलता हुआ नजर आया राजस्थान में. कल यानि की बुधवार देर रात पायलट खेमे के 2 विधायक मुरारी लाल और रमेश मीणा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के हॉर्स ट्रेड्रिंग और भ्रष्टा’चार के आरो’पों को खारि’ज कर दिया. उन दोनों विधायक का कहना है कि हम लोग अपने आत्मसम्मान की लड़ाई लड़ रहें है. उन्होंने कहा की हम अशोक गहलोत के काम से संतुष्ट नहीं है. 

विधायक मुराली लाल ने कहा, ‘लोग मुख्यमंत्री गहलोत को जादूगर कहते हैं. उन्होंने हम लोगों पर भ्रष्टा’चार के आ’रोप लगाए हैं. यह इस बात को पुख्ता करता है कि वे वास्तव में असली जादूगर हैं. उनमें भ्रमि’त करने की क्षमता है. वे जादू से ऐसी चीज दिखा रहे हैं, जो हकीकत में नहीं है.’ मुरारी लाल ने कहा की हम उनसे पूछना चाहेंगे की जब हम बसपा में थे और उसके बाद कांग्रेस में शामिल हुए थे. तब हमने कितने पैसे लिए थे. क्या अशोक गहलोत जवाब देंगे. उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत कहते थे की हमने इतने इमानदार विधायक कभी नही देखे तो उस समय हम इतने ईमानदार थे और आज भ्र’ष्ट कैसे हो गए? वे हमें डरा’ना चाहते हैं, लेकिन हमारे संस्कार डरने वाले नहीं हैं’.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *